AVN AVN AVN

उत्तराखंड: आखिर गुडेश्वरी देवी के लिए कहाँ लुप्त हो गयीं सरकारी याेजनाएं

•गुडेशवरी देवी का आराेप नही मिला रहने घर
•क्या यही है विकास की तस्वीर
•सरकार के विकास के दावे हो रहें हैं फेल
•BPL के दायरे में आती है गुडेश्वरी देवी

पौड़ी गढ़वाल- उत्तराखंड जनपद पाैडी गढ़वाल के विधानसभा लैंसडाैन के विकासखंड रिखणीखाल क्षेत्र के अंदर गाँव के गुडेश्वरी देवी के लिए शायद कांग्रेस भाजपा किसी भी सरकार के राज में कोई भी याेजना नही आई । जब मीडिया अंदर गाँव में पहुँची तो सबसे पहला घर मिला गुडेश्वरी देवी का।
गुडेश्वरी देवी आरक्षण के दायरे में आती है परंतु शायद आरक्षण भी इनके काम नही आया।
गुडेश्वरी देवी अपने पति आैर लडकी के साथ रहती है ये भूमि हीन परिवार है केवल मकान भर की जगह है गुडेशवरी देवी के पास मकान की स्थिति देखे तो मकान पूरी तरह से जर्जर हालत में है कभी भी काेई बडा हादसा हो सकता है इस परिवार के साथ
जब मीडिया से गुडेश्वरी देवी ने बात की ताे पता चला कि इन्हे मनरेगा से भी साल में चालीस पचास दिन काम मिलता है।
इंदिरा आवास प्रधानमंत्री आवास याेजना शायद इनके लिए नही है
शौचालय के लिए पैसे नही मिले।
उत्तराखंड संघर्ष समिति के संयाेजक प्रभुपाल सिंह रावत डी पी एस रावत प्रदीप कुमार अंदर गाँव में माैजूद थे उन्होंने गुडेशवरी देवी के बारे में ग्राम सभा प्रधान भारत सिंह रावत से बात की भारत सिंह रावत से पूछा कि क्या उनकी नजर अभी तक गुडेश्वरी देवी पर नही पडी क्या इस परिवार के लिए उनके पास काेई याेजना नही है।

-पाैडी गढ़वाल से इंद्रजीत असवाल की रिपाेर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!