शाहजहांपुर – कहते है माँ बाप भगवान का दूसरा रूप होते है लेकिन यूपी के शाहजहांपुर में माँ बाप एक मासूम बच्ची के लिए शैतान बन गए। यहां एक तांत्रिक के कहने पर अपनी ही बच्ची पर भूत प्रेत का साया होने पर उसे मां बाप ने जिंदा दफन कर दिया। गड्ढेे मे दफन बच्ची के रोने की आवाज से ग्रामीणों ने उसे जिन्दा निकालकर जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में खुलासा करते हुए बच्ची के पिता और तांत्रिक सहित चार लोगो गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वही मासूम बच्ची को इलाज के बाद शिशु कल्याण केंद्र भेजने की तैयारी की जा रही है।

मामला थाना जलालाबाद के पुराने पुराना गांव का है जहां 18 जनवरी को तालाब के पास एक बच्ची को किसी ने जिंदा दफन कर दिया पास के ग्रामीणों ने जब बच्ची के रोने की आवाज सुनी तो ग्रामीणों ने उसे जिंदा निकाल कर पास के अस्पताल में भर्ती कराया जहां पुलिस ने मामले की छानबीन की तो चौंकाने वाले बातें सामने आई है। पुलिस ने तांत्रिक समेत मां बाप और उसकी बहन को
गिरफ्तार किया है।

दरअसल शादाब की 1 माह की नवजात बच्ची बीमार रहती थी जिसके चलते वह तांत्रिक अबरार के पास गया जहां तांत्रिक ने झाड़-फूंक के दौरान शादाब और उसकी पत्नी को बताया कि आपकी बेटी में भूत प्रेत का साया है जिसके चलते यह भूत प्रेत पूरे परिवार के लिए घातक है। इसकी मां की कोख इसके जीवित रहते हरी नहीं हो सकती इसको जीवित दफन कर दो। यह सुनकर बच्ची की मां नगमा शादाब मुन्ना और आसमान ने एकराय होकर योजना बनाई और पुरैना गांव के तालाब के पास पहुंची जहां खुरपी से गड्ढा खोदकर इस मासूम बच्ची को जिंदा दफन कर
दिया। ताकि परिवार पर इसका परिवार का बुरा न हो सके।

बच्ची को दफन करने के बाद तीनो लोग वहां से फरार हो गए। गड्ढे से जब बच्ची के रोने की आवाज रो ग्रामीणों को सुनाई दी। जिसके चलते जब ग्रामीणों ने गड्ढा खोदा तो उसमें जीवित बच्ची निकली। आनन-फानन में ग्रामीणों ने उसके जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसका ईलाज पिछले 3 दिनों से किया जा रहा है। वही पुलिस बच्ची को बीमारी से निजात दिलाने के बाद उसे शिशु कल्याण केन्द्र भेजने की तैयारी में जुटी हुई है।

वैज्ञानिको ने हर बीमारी का इलाज अधिकतर ढूंढ निकाला है लेकिन ग्रामीण अंचलों के लोग अपने बच्चो को इलाज डाक्टरो के पास न कराकर अपने
बच्चों की जानजोखिम मे डालकर तंत्र-मंत्र पर भरोसाकर रहे हैं। ऐसे में मां बाप ना केवल अपने बच्चों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे हैं बल्कि उन
तांत्रिकों के कहने पर अपराध करने पर भी हाथ नहीं कांप रहे हैं। चौंकाने वाली बात है कि अपनी ही बच्ची को जिंदा दफन करते समय इन मां बाप के हाथ में बच्ची की जान लेते समय नही कांपे। ऐसे मे ग्रामीणो के भरोसे के चलते तांत्रिको की दुकाने खूब फल फूल रही है।

-अंकित कुमार शर्मा,शाहजहांपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!