बिजनौर- बिजनौर के शेरकोट थाना क्षेत्र के कांधला रोड पर बने हारूल कुरान हमीदिया मदरसे में कल मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने अवैध तमंचा बरामद कर 6 लोगों को गिरफ्तार किया था। इस अवैध तमंचा को लेकर पुलिस ने बिहार के रहने वाले एक साबिर नाम के युवक को मदरसे से गिरफ्तार किया है।
पुलिस ने मदरसा संचालक मोहम्मद साजिद, वसीम अहमद, अजीजुर्रहमान, जफर इस्लाम, सिकंदर अली को भी गिरफ्तार किया है।

मदरसे में मिले अवैध असलाहों को लेकर आज एटीएस नोएडा टीम घटना की जांच करने के लिए शेरकोट थाने पहुंची और पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ की।अभी एटीएस टीम द्वारा इस प्रकरण में जांच चल रही है। एटीएस और पुलिस इस घटना को लेकर अभी जांच में जुटी हुई है कि इस घटना का किसी आतंकवादी घटना से तो कोई कनेक्शन तो नहीं है।

बता दें कि 2014 में बिजनौर शहर के जाटान चौकी क्षेत्र के मोहल्ला जाटान में 2014 को 12 सितंबर की दोपहर में एक आतंकवादी घटना में एक मकान में ब्लास्ट हुआ था। इस आतंकवादी घटना में अमजद रमजान, असलम, आयूब, जाकिर बदरुल, एजाजुद्दीन महबूबा, अबू फैजल जैसे आतंकियों का नाम सामने आया था। बरहाल बिजनौर में 2014 के ब्लास्ट के बाद जिला बिजनौर आतंकी घटनाओं में हमेशा हाईलाइट रहा है।

इस घटना के बाद से सूत्रों के हवाले से यह भी पता चला है कि बिजनौर आतंकियों का माड्यूल हब बन रहा है। बिजनौर के आसपास मुस्लिम आबादियों में भारी संख्या में स्लीपर सेल्स होने का भी पता चलता रहा है।

क्योंकि 2014 की घटना के बाद जांच एजेंसियों ने इस बात को माना था कि विस्फोट के बाद भी आतंकी अपने पनाहगारो के बल पर महीनों यहां छिपकर समय गुजारते रहे और मौका देखकर फरार होने में कामयाब रहे है। इसी कड़ी में बिजनौर पुलिस अधीक्षक ने एक प्रेस वार्ता कर बताया कि बिजनौर के शेरकोट में कल हुए अवैध असलहे की बरामदगी को लेकर मदरसा संचालक सहित 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

जिनके पास से एक तमंचा 315 बोर एक तमंचा 32 बोर 16 जिंदा कारतूस और एक पिस्टल 32 बोर दो मैगजीन 16 जिंदा कारतूस और 6 मोबाइल बरामद किए गए हैं तकरीबन 57 कारतूस टोटल बरामद किए गए हैं। जबकि इन लोगों से एटीएस आईबी और एसटीएफ की टीम पूछताछ कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!