अपहरण के बाद हत्या:72 घंटे बाद भी नामजद आरोपी पुलिस की गिरफ्त से दूर

सीतापुर – थाना रेउसा इलाके में किशोर के अपहरण के बाद हत्या के मामले में शव बरामदगी के 72 घंटे बाद भी कानून के लंबे हाथ नामजद आरोपियों तक नहीं पहुंच सके हैं इस सनसनीखेज वारदात को पुलिस लापरवाही के कारण अंजाम दिए जाने का आरोप लगाने वाले मृतक के परिजनों ने जब नामजद आरोपी की गिरफ्तारी में देरी से आक्रोश पनप रहा है यह आक्रोश किसी भी वक्त आंदोलन में बदल सकता है उधर पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक शव बरामदगी के कुछ घंटे पहले ही हत्या किए जाने की बात सामने आई है इससे मृतक के घरवालों के मन में पुलिस के प्रति खटास बढ़ बढ़ना लाजिमी है मृतक व आरोपी एक ही गांव के होने से तनाव भी बढ़ता जा रहा है मालूम हो कि थाना क्षेत्र के धम धमपुर मजरा कोड़वा निवासी हरीश कुमार 16 वर्ष पुत्र बलराम बीती 13 जनवरी को वह वक़्त रहस्यमय ढंग से गायब हो गया जब वाह घर से खेत देखने निकला था तलाश के दौरान गांव के बाहर उसकी साइकिल बरामद की गई पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज करने के बाद भी मामले को हल्के में लिया है बलराम के मुताबिक गांव के ही अबरार हुआ उसके लड़कों पर शक जाहिर करने के बाद महाब को पूछताछ के लिए पुलिस थाने ले गई थी मगर बिना किसी ठोस कार्यवाही के उसे छोड़ दिया आरोप है कि महक मेहताब को छोड़ दिया जाने के बाद अगली सुबह उसके गन्ने के खेत में हरीश का शव बरामद किया गया माता के पिता ने सीधे तौर पर रेउसा पुलिस को घटना को जिम्मेदार ठहराया आरोप लगाया कि पुलिस सख्ती से जांच करती तो शायद हरीश की जान बचाई जा सकती थी 15 जनवरी को शव बरामदगी पर खा से हम गांव में के बाद अपराध वह उसके तीन लड़कों के विरुद्ध अपराध हुआ हत्या का केस तो पुलिस को दर्ज करना पड़ा मगर 72 घंटे बाद तक पुलिस इस सनसनीखेज मामले के किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है दूसरी तरफ पीएम रिपोर्ट की मानें तो हरीश की हत्या शुभ रात्रि से कुछ घंटे पहले ही की गई थी यह बात जानकारी में आने से मृतक के घर वालों में भारी रोष नजर आ रहा है इतना ही नहीं मृतक व आरोपी एक ही गांव के होने से तनाव व्याप्त है प्रभारी थाना अध्यक्ष विष्णु कुमार बताते हैं कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए संभव ठिकानों पर लगातार दबिश दी जा रही है जल्द ही वह पुलिस की गिरफ्त में होगा

रामकिशोर अवस्थी
सीतापुर ब्यूरो

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!