आपसी घरेलु विवाद में महिला के ऊपर उसके देवर ने फेंका तेजाब

*महिला झुलसी तीन मासूम तेजाबी हमले में बचे बाल बाल

*पीड़ित दंपत्ति रिपोर्ट लिखाने को थाने में फिरते रहे मारे मारे

*पत्रकार के हस्तक्षेप के बाद पुलिस आई हरकत में *पीड़ित को अस्पताल भेज आगे की कार्यवाही में जुटी पुलिस

मुज़फ्फरनगर – जी हाँ ये कड़वा सच है की योगी सरकार में भी महिलाओं पर अत्याचार रुकने का नाम नही ले पा रहे है जहां एक तरफ हर रोज सूबे में महिलाओ और युवतियों के साथ छेड़ छाड़ की घटनाएं आम हो चुकी है । वहीं आब महिलाओ पर ऐसिड अटैक की घटनाएं भी बढ़ने लगी है ।

ताजा मामला जनपद मु नगर के थाना नई मंडी थाने का है जहां एक गरीब परिवार न्याय पाने और इंसाफ के लिए थाने में आया था ।जहां पहुँचते ही पीड़ित गरीब दंपत्ति ने पुलिस कर्मियों को अपनी आप बीती सुनाई और बताया की महिला के देवर ने महिला के ऊपर ऐसिड अटैक किया है जिसके चलते महिला के पाँव तेजाब में झुलस गए ।

यहां पुलिस ने पीड़ित को देखकर तहरीर लिखकर लाने की बात कह उसे बाहर भेज दिया और महिला पुलिस कर्मी ने पीड़ित महिला को तुरन्त इलाज हेतु कुछ जैल नुमा चीज झुलसे हुए स्थान पर लगाने को दी ।

वहीं दूसरी तरफ पीड़िता का पति वापस पहुंचा और मायुस होकर अपने बीवी बच्चों के साथ थाने से चलने लगा जब यह नजारा वहां मौजूद दैनिक हाक समाचार पत्र के पत्रकार भगत सिंह ने देखा तो उनसे रहा नही गया और पीड़ित से सारा मामला विस्तार से सुना जिस पर पीड़ित ने बताया की पुलिस कर्मियों ने तहरीर लिखकर लाने की बात कहीं थी तो वह थाने से चन्द क़दमों की दुरी पर ही एक दूकानदार (जोकि थाने आने वाले हर पीड़ित की तहरीर लिखता है) के पास गया जहां उससे तहरीर लिखने की ऐवज में रुपये 50 की मांग की गई । पीड़ित के पास रुपये न होने की दशा में वह वापस थाने लोट आयक और अपने बीवी बच्चों के साथ थाने से चलने लगा ।

जिस पर पत्रकार ने अपनी जेब से 20 रुपये निकालकर दिए और फिर से तहरीर लिखने वाले के पास जाने की बात कह उसे भेज दिया वहीं इस पूरे मामले की जानकारी थाना प्रभारी नई मंडी संजीव कुमार को भी दी । जहां पत्रकार के हस्तक्षेप के बाद थाना प्रभारी ने पीड़ितों को इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा वहीं चौकी इंचार्ज बगोवली रामवीर सिंह को बुलाकर पूरे मामले की जांचोपरांत कार्यवाही करने के दिशा निर्देश दिया ।

साथ ही साथ थाने से चन्द क़दमों की दूरी पर एक दुकान में तहरीर लिखने वाले को बुलाकर जहां एक तरफ जमकर हड़काया वहीं पीड़ित के रुपये भी वापस दिलाये।

तेजाबी हमले में घायल महिला व् उसके पति ने बताया की उसका छोटा भाई हर रोज शराब पिता है व् हम दोनों पति पत्नी से मार पीट करता है हम लोग पहले भी थाने के चक्कर काट चुके है जिस पर जिस कारण कोई कार्यवाही न होने के चलते आज उसके छोटे भाई ने अपनी भाभी के ऊपर तेजाब डालकर उसे घायल कर दिया गनीमत रही की उसके छोटे छोटे बच्चे इस तेजाबी हमले में नही आये ।।

– मुजफ्फरनगर से भगत सिंह

Leave a Reply

%d bloggers like this: