जहरीली शराब कांड का पर्दाफाश: कैमिकल सप्लायर अर्जुन भारी मात्रा में कैमिकल समेत बंदी

सहारनपुर-हरिद्वार- सिविल लाईन कोतवाली में एसएसपी हरिद्वार जन्मेजय खंडूरी व सहारनपुर के एसएसपी दिनेश कुमार पी. ने संयुक्त प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि बाल्लूपुर शराब कांड की घटना में सोनू पुत्र फकीरा व फकीरा की गिरफ्तारी पूर्व में कर ली गई थी। उनके द्वारा अपने जुर्म का इकबाल करते हुए उक्त जहरीली शराब को हरदेव उर्फ देवा पुत्र सुखिवंदर उर्फ सुक्का व सुखिवंदर उर्फ सुक्का पुत्र आशा सिंह निवासी पुंडेन चुनहेटी थाना गागलहेड़ी से खरीदना बताया था। जिसके सम्बन्ध में सहारनपुर के थाना गागलहेड़ी व देवबंद नागल थाने में विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज है। उन्होंने बताया कि कल झबरेड़ा पुलिस व सीआईयू रुड़की द्वारा हरदेव व उसके पिता सुखिवंदर को गिरफ्तार किया गया था। हरदेव ने जहरीली शराब बेचना स्वीकार किया तथा अपने साथ लॉडी उर्फ गुरू साहब पुत्र जिंदा निवासी पुंडेन की संलिप्तता बताई तथा कच्ची शराब बनाने के लिए माल अर्जुन कुमार पुत्र नारायण निवासी डाडली भगवानपुर से लेना बताया। गुरू साहब उर्फ लाडी व उसके नौकर टिंकू को सहारनपुर पुलिस द्वारा सोमवार को गिरफ्तार किया गया। इसके बाद हरिद्वार एवं सहारनपुर की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा आज अभियुक्त अर्जुन कुमार पुत्र नारायण निवासी डाडली थाना भगवानपुर को तेज्जूपुर के पास से गिरफ्तार कर लिया तथा इन्द्र पुत्र सूरजभान निवासी तेजपुर गढ़ी सहारनपुर से गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त अर्जुन ने अपने जुर्म का इकबाल करते हुए बताया कि वह पिछले दो साल से यह काम कर रहा है। इस दौरान उसने अलग-अलग लोगों के नाम बताये। जिनमें सुभाष मास्टर, सुशील चौधरी एवं इलम, फिरोज के नाम प्रकाश में आये। इनके नाम की तस्दीक की जा रही है। उसने बताया कि रुड़की के एसी सैलूलॉज प्रो. लि. से कैमिकल लेने का प्रयास किया तो उसके द्वारा जीएसटी पर ही कैमिकल देना बताया। अर्जुन ने जीएसटी नम्बर लेने के प्रयास किये, लेकिन वह सफल नहीं हो पाया तो उसने मनोज सिंह पुत्र सुरेन्द्र निवासी गांधीनगर रुड़की से सम्पर्क किया। मनोज सिंह ने उसे अपने जीएसटी नम्बर पर छः ड्रम कैमिकल के उपरोक्त कम्पनी से दिलाये। जिसमें से तीन ड्रम लाडी व हरदेव को बेच दिये व दो ड्रम टिंकू उर्फ पहल सिंह निवासी नागल तथा एक ड्रम अर्जुन ने खुद की शराब निकालने के लिए अपनी दुकान में रख लिया। लाडी व हरदेव ने ड्रम से 50 लीटर कैमिकल की शराब बनाई तो उसका रंग दूधिया हो गया। उस शराब में से हरदेव व लाडी ने बाल्लूपुर के सोनू को करीब 35 बोतल कच्ची शराब की देना बताया तथा बाकी शराब दोनों ने गागलहेडी व नागल थानाक्षेत्रों में बेची थी। यह वही शराब थी, जो बाल्लूपुर के सोनू ने आस-पास के गांव में बेची थी। पुलिस ने अभियुक्तों की निशानदेही पर तीन ड्रम कैमिकल इनमें एक ड्रम सिरचंदी में किराये की दुकान व दो ड्रम गोदाम मालिक सचिन गुप्ता के यहां से बरामद किये। एसएसपी हरिद्वार ने कैमिकल का नाम आईपीए बताया तथा कहा कि यह कैमिकल फार्माटिक्ल कम्पनियों में प्रयोग किया जाता है। प्पुलिस टीम में सीओ मंगलौर डीएस रावत, प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह, प्रभारी निरीक्षक प्रदीप चौहान, थानाध्यक्ष कमल मोहन भण्डारी, दरोगा अजय जाटव, दरोगा अर्जुन सिंह, कां. सोनू के साथ ही एसओजी रुड़की से दरोगा रविन्द्र सिंह, दरोगा सुखपाल सिंह मान, एचसीपी देवेन्द्र भारती, कां. जाकिर हुसैन, सुरेश रमोला, देवेन्द्र ममगई, रविन्द्र खत्री के साथ ही सहारनपुर पुलिस टीम मंे दरोगा सुधीर उज्जवल, दरोगा जुर्रार हुसैन, मुबारिक व दरोगा सुनील मय टीम शामिल रहे। इसके बाद एसएसपी ने दरोगा सुखपाल सिंह मान व सीआईयू रुड़की की टीम के कार्यो की सराहना की और उनकी पीठ थपथपाई।

– सुनील चौधरी सहारनपुर

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!