ढ़ाई करोड़ की पुरातातित्व अष्ठधातु की शंख डोस जैसी वस्तु के साथ 5 शातिर अपराधी मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

चन्दौली- जनपद के मुग़लसराय कोतवाली पुलिस व स्वाट टीम ने रविवार की देर रात को एक अष्टधातु की प्राचीन शंख बरामद करने का दावा किया है। इसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में लगभग ढ़ाई करोड़ रुपये बतायी जा रही है। इस मामले में पुलिस ने पांच तस्करों को गिरफ्तार किया है। इसके पास से एक ऑटिमेटिक पिस्टल सहित 06 जिंदा कारतूस सहित आठ मोबाइल बरामद की गयी है। पुलिस गिरफ्तार सभी तस्करों से पूछताछ के बाद जेल भेज दिया। सोमवार दोपहर पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस वार्ता में पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि कुछ लोग निजी वाहन द्वारा जमालपुर से टेंगरा मोड़ रामनगर की तरफ आ रहे है। जिनके बाद पुलिस ने हल्की मुठभेड़ के बाद सभी तस्करों को दबोच लिया। पकड़े गये तस्करों में प्रदीप सिंह पुत्र हंसलाल निवासी जमानियां जिला ग़ाज़ीपुर, विकाश सिंह पुत्र हंसलाल निवासी जमानियां जिला ग़ाज़ीपुर,गुफरान खां पुत्र मोहिब निवासी सैयदराजा चंदौली,सुनील कुमार पुत्र गोकुल निवासी अदलहाट जिला मिर्ज़ापुर और संदीप सिंह पुत्र हंसलाल निवासी जमानियां ग़ाज़ीपुर के रहने वाले हैं। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि यह गिरोह आंध्र प्रदेश राज्य के कई जिलों से मूर्तियों को पहले भी यूपी,कोलकाता,बेंगलुरु सहित दूसरे राज्यों में खरीद-बिक्री कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि राज्य के कई जिलों में मूर्ति चोरी की घटना हुई है। इसलिए दूसरे जिलों को भी इसकी सूचना दी गयी है।

रंधा सिंह चन्दौली

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!