* SIT की जांच रिपोर्ट के बाद करेगी कठोर कार्यवाही

सोनभद्र- उम्भा में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को सोनभद्र जिले के उम्भा गांव में लाभार्थी परक योजनाओं के प्रमाण-पत्र वितरण एवं विकास कार्यों का शिलान्यास तथा लोकार्पण कार्यक्रम में अरबों रूपये की परियोजनाओं का लोकार्पण,शिलान्यास के अलावा पात्रों को पट्टा सहित अन्य जन कल्याणकारी योजनाओं के लाभान्वित करने के साथ ही विपक्षी राजनैतिक दलों को आड़ें हाथों लिया। मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्जवलन करके किया, इसके बाद उम्भा गांव के 281 लाभार्थियों को 852 बीघा भूमि पट्टा आवंटन प्रमाण-पत्र प्रदान कियें। उन्होंने सोनभद्र जिले की 3 अरब 39 करोड़ 80 लाख रूपये की लागत की 35 परियोजनाओं का लोकार्पण व 11 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। उम्भा गांव के 292 परिवारों को ‘‘मुख्य मंत्री आवास योजना‘‘ का स्वीकृति-पत्र प्रदान किया। आयुष्मान भारत के प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना के अन्तर्गत 510 और मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के अन्तर्गत 201 लाभार्थियों को गोल्डेन कार्ड प्रदान किया। उम्भा गांव के सभी पात्रों को राशन कार्ड से संतृप्त किया। सभी दिव्यांगजनों को कृतिम उपकरण भी उपलब्ध करायें। इस मौके पर निराश्रित वृद्धावस्था के 88 लाभार्थियों को स्वीकृति-पत्र प्रदान कियें। इस मौके पर सभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उम्भा गांव में गत 17 जुलाई, 2019 को घटित घटना दर्दनाक घटना के रूप में जाना। घटना के बाद मैं गांव में आया, घटना के आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने और पीडि़त परिवारों का मदद करने का भरोसा दिलाया। सोनभद्र जिले के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग, सामान्य जाति के भलाई के लिए ‘‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विष्वास‘‘ के तर्ज पर प्रदेश सरकार सब कुछ कर रही है। उन्होंने कहा कि उम्भा गांव में जो घटना घटी, वह 1952 से 1955 के दौरान तत्कालीन कांग्रेस सरकार की आदिवासी नागरिकों के खिलाफ किये गये कार्य से घटी। उन्होंने कहा कि 70 वर्षां से प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकारें गरीबों का हक छीनने का काम किया है। गरीबों का हक दिलाने का काम वर्तमान केन्द्र सरकार व उत्तर प्रदेश सरकार कर रही है। आदिवासी गरीब व्यक्तियों की लगभग सोनभद्र जिले में एक लाख बीघा से ज्यादा जमीनें अन्य पूर्ववर्ती सरकारों ने सत्ता का संरक्षण देकर आदिवासी, वनवासियों के साथ छल किया है। कतिपय सरकारों ने आदिवासी, वनवासियों को जमीन के मालिकाना हक से वंचित किया है, उनका हक वर्तमान सरकार दिलायेगी। उम्भा गांव के प्रकरण सहित जिले के सभी क्षेत्रों के जमीनों की जॉच करायी जा रही है। जॉच रिपोर्ट आते ही जॉच में दोषी पाये जाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि उम्भा गांव की एसआईटी टीम द्वारा जॉच की जा रही है, रिपोर्ट प्राप्त होते ही सख्त से सख्त कार्यवाही कर दोषियों को दण्डित किया जायेगा। गरीबों के जमीन को हड़पने वालों को बक्शा नहीं जायेगा। वर्तमान सरकार गरीबों को उनका मालिकाना हक दिलायेगी। वर्ष-1952 से 1955 की पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के गलत कार्यों के वर्तमान सरकार ठीक करके ही रहेगी। सोनभद्र जिले को ऊर्जा की राज्यधानी की संज्ञा देते हुए कहा कि सोनभद्र जिला प्राकृतिक सम्पदाओं से भी परिपूर्ण है। देश के अति पिछड़े 115 जिले यानी उत्तर प्रदेश के 8 जिलों की सूची में सोनभद्र भी शामिल है, जो सोनभद्र का चहुंमुखी विकास करके सोनभद्र जिलों को अति पिछड़े की श्रेणी से बाहर करना है। उन्होंने कहा कि पूववर्ती सरकारें सोनभद्र जिले के गरीबों के हक को दिलाने का कार्य करेंगी। उन्होने कहा कि सोनभद्र जिले के पात्र भूमिहीन परिवारों को जमीन का पट्टा व अन्य लाभ देकर उनके चेहरे पर मुस्कान लायेगी। जब सोनभद्र जिले के नागरिकों के चेहरे पर मुस्कान होंगी, तो प्रदेश के नागरिक भी प्रसन्न होंगें। उन्होंने कहा कि सोनभद्र जिले की ओबरा तहसील की स्थापना, कोन व करमा ब्लाक की स्थापना, पं0 दीन दयाल उपाध्याय आश्रम पद्धति विद्यालय की स्थापना, जिले के तीनो तहसील स्तर पर कौषल प्रषिक्षण केन्द्रो की स्थापना की कार्यवाह में काफी कार्य जिला प्रशासन ने किया है। बाकी बचें कार्यवाहियों को पूरा होते ही सभी परियोजनाओं का स्थापना जल्द ही होगा। इस मौके पर मा0 मुख्य मंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के अलावा जिले के प्रभारी मंत्री प्रदेश के राज्य मंत्री बेसिक शिक्षा विभाग स्वतंत्र प्रभार सतीश चन्द्र द्विवेदी, दिवस अधिकारी मुख्यमंत्री अजय सिंह, ओएसडीसीएम राजभूषण रावत, अध्यक्ष जिला पंचायत अमरेश सिंह पटेल, सांसद पकौड़ी लाल, विधायक सदर भूपेश चौबे, विधायक घोरावल डॉ0 अनिल कुमार मौर्या, विधायक ओबरा संजीव कुमार गौंड़, विधायक दुद्धी हरिराम चेरो, भाजपा के काशी प्रान्त के उपाध्यक्ष रमेश मिश्रा, ओंकार केशरी, जिलाध्यक्ष भाजपा अशोक मिश्रा, जिलाध्यक्ष अपना दल सत्य नारायण पटेल, पूर्व सांसद छोटेलाल खरवार, पूर्व विधायक तीरथराज, आयुक्त विन्ध्याचल मण्डल, आनन्द कुमार सिह, डीआईजी मीरजापुर मण्डल पीयूष श्रीवास्तव, जिलाधिकारी एस राजलिंगम, पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी, मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार द्विवेदी, अपर जिलाधिकारी योगेन्द्र बहादुर सिंह, राम प्रताप त्रिपाठी, उप जिलाधिकारीगण, पुलिस क्षेत्राधिकारीगण, जिला स्तरीय अधिकारीगण, गणमान्य नागरिक सहित भारी संख्या में क्षेत्रीय नागरिक व लाभार्थीगण मौजूद रहें।

रिपोर्ट – राजेन्द्र कुमार शाह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *