AVN AVN AVN

योगी की पुलिस ने बनाया छात्राओं को 1 दिन का थानेदार

*एसपी ने पढ़ाया जब कानून का पाठ, तो बच्चे सीखा गए पुलिसिंग
* श्रेया व बुशरा खान बनी शहर कोतवाल

हरदोई – शहर कोतवाली भ्रमण पर निकलीं वेणीमाधव बालिका इंटर काॅलेज की छात्राओं को एसपी की मौजूदगी में कोतवाली का भ्रमण कराया गया। एसपी की ओर से छात्राओं को पुलिस की ओर से मिलने वाली मदद व सुविधाओं की जानकारी दी गई। इसी कड़ी में इंटरमीडिएट की दो छात्राओं को चंद पलों के लिए शहर कोतवाल बनाकर ट्रायल किया गया। छात्राओं ने दो शिकायतों को सुनकर प्रभावी कार्रवाई करते हुए मदद की मिसाल पेश की।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार को शहर के एमजी मार्ग स्थित वेणीमाधव बालिका इंटर काॅलेज की छात्राएं शिक्षिकाओं के निर्देशन पर शहर कोतवाली भ्रमण पर निकलीं। भ्रमण कार्यक्रम की सूचना मिलने पर एसपी आलोक प्रियदर्शी, सीओ सिटी भी मौके पर पहुंच गए। छात्राओं को पुलिसकर्मियों ने कोतवाली में बने एक-एक कक्ष के बारे में विस्तृत जानकारी दी। एसपी ने छात्राओं के कई सवालों के जवाब भी दिए। छात्राओं को एफआईआर दर्ज कराने, साइबर अपराध से बचने, पुलिस से न डरने की सलाह दी गई। इसके बाद कुछ कार्रवाई के बारे में भी जानकारी प्रदान की गई। इसी बीच छात्राओं ने कई सवाल भी एसपी से किए। जिनका एसपी ने बेहद संजीदगी के साथ जवाब दिया। एसपी छात्राओं को पुलिसिया कार्रवाई व मदद से अवगत कराते हुए शासन की ओर से जारी किए गए पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराने पर चर्चा करने लगे इसी बीच एक छात्रा ने पूंछा कि अगर इस पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराई व कार्रवाई नही हुई तो, इसको लेकर एसपी छात्राओं में पुलिस के प्रति डर को भांप गए। एसपी के आदेश पर छात्राओं को कोतवाल कक्ष में ले जाया गया जहां पर इंटर की छात्रा श्रेया श्रीवास्तव को एसएचओ की कुर्सी पर बैठाकर एक शिकायर्ता की शिकायत सुनवाई गई। जिसका मानवता को ध्यान में रखते हुए छात्रा ने आदेश दिया। छात्रा के आदेश को दृष्टिगत रखते हुए उसपर प्रभावी कार्रवाई करने के लिए एसपी ने प्रेषित कर दिया। इसके बाद छात्रा बुशरा खान की बारी आई तो उन्होने भी शिकायर्ता के दर्द की तह तक जाते हुए मामले की त्वरित एफआईआर दर्ज करने का आदेश पुलिसकर्मी को दिया।

एसपी ने छात्राओं को सीयूजी नंबर, डायल 100, वूमेन पावर लाइन के संबंध में जानकारी देते हुए यहां से मिली जानकारी को परिवार में साझा करने की बात कही। छात्राओं ने जिले की पुलिस की प्रशंसा करते हुए संदेश दिया कि लोग अधिक से अधिक पुलिस की मदद करें, जिससे उनको भी मदद मिल सके।लेकिन छात्राओं की ओर से जिस प्रकार सुनवाई की गई उससे पुलिसकर्मियों को सीख लेनी चाहिए।

– हरदोई से आशीष सिंह
हरदोई उत्तर प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!