हरिद्वार/रुड़की- चुनाव का अंतिम समय है और प्रत्येक दल के कार्यकर्ता लोकसभा में अपने प्रत्याशी को जिताने के लिए जी जान से जुटे है तो वहीं भाजपा के दो विधायक एक दूसरे को जेल भिजवाने के लिए एड़ी चोटी के जोर लगाए हुए हैं। खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन ने झबरेड़ा विधायक पर फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनाने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी। कहा कि पार्टी हाईकमान से उन्हें निष्कासित करने की मांग करेंगे। वहीँ झबरेड़ा विधायक ने कहा है कि वह ग्यारह अप्रैल के बाद चैम्पियन को जेल भिजवाएंगे।
झबरेड़ा विधायक की पत्नी ने चैंपियन के तीन समर्थकों पर मुकदमा दर्ज कराया था। चैंपियन ने देशराज के जाति प्रमाण पत्र को फर्जी करार दिया था। जवाब में देशराज ने उन्हें हलफनामा देकर शिकायत करने की चुनौती दी थी। इस मामले को लेकर चैंपियन ने देशराज के खिलाफ रविवार को कोतवाली पहुंचकर तहरीर दी थी। सोमवार को वह फिर कोतवाली पहुंचे। कोतवाली में पत्रकार वार्ता में चैंपियन ने आरोप लगाया कि एक जुलाई 2005 को देशराज ने एक लेखपाल से सांठगांठ कर फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनाया। कहा कि मामले में तत्कालीन एसडीएम की जांच में लेखपाल दोषी पाया गया और निलंबित हुआ। 2007 में देशराज कर्णवाल ने चार लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया था। कहा कि फर्जी जाति प्रमाण पत्र के आधार पर उन्होंने विधायक का चुनाव लड़ा और इस पद पर चुने गए। कहा कि यह धोखाधड़ी है। पार्टी की छवि धूमिल करने का काम किया गया। कहा कि पार्टी और संघ नेताओं से बातकर वह देशराज को पार्टी से निष्कासित करने की मांग करेंगे। वहीं इस सम्बंध में झबरेड़ा विधायक का कहना है कि 2007 में उनकी पत्नी जिला पंचायत सदस्य थी और चैम्पियन कांग्रेस से विधायक थे उनकी पत्नी भी जिला पंचायत सदस्य थी और जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए वैजयन्ती से वोट की मांग की थी वोट न देने पर झूठे कागजात चैम्पियन ने तैयार करवयाएँ और उन्हें फंसाने की साजिश रची। विधायक झबरेड़ा का कहना है कि उस समय जिस लेखपाल को दोषी पाया गया था वह निराधार साबित हुए और वह लेखपाल आज नायब तहसीलदार के पद पर है।

– रूडकी से इरफान अहमद की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!