AVN AVN AVN

संविधान के दायरे में होगा मंदिर निर्माण: सीएम योगी आदित्‍यनाथ

गोरखपुर- वनटांगिया ग्राम में दीपावली मनाने आए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश के साधु-संतो को केंद्र एवं प्रदेश सरकार और उसके द्वारा किए जा रहे कार्यो पर भरोसा है। कल अयोध्या में दीपोत्सव के मंच पर देश के साधु-संत थे, वे प्रदेश सरकार के कामों से संतुष्ट हैं। अयोध्या में मंदिर का निर्माण संविधान के दायरे में होगा।
उन्‍होंने कहा कि अयोध्या का विकास आयोध्या की भावनाओं के अनुरूप किया जाना चाहिए। अयोध्या का समग्र विकास करने का प्रयास किया जा रहा है। अयोध्या एक विश्वस्तरीय नगरी है। इस नगरी को देश और दुनिया जिस नाम पर जानती है, उसी नाम पर जनपद का नाम हमने किया। ढेर सारी योजनाएं अयोध्या के लोगों के लिए उपलब्ध कराई गई हैं। बहुत सारी योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया गया है। कुछ और पाईप लाइन में हैं। अयोध्या में राम मंदिर के सवाल पर उन्होंने कहा कि देश की भावनाओं के साथ उनकी भी भावनाएं भी हैं। संवैधानिक दायरे में रह कर श्रीराम जन्मभूमि मसले का समाधान होगा। उन्होंने जोर देकर कहा कि शीघ्र ही इस मामले का समाधान हो जाएगा।
सीएम ने अयोध्या में की हैं ये तीन प्रमुख घोषणाएं

योगी ने मंगलवार को अयोध्या में एलान किया कि अब फैजाबाद का नाम अयोध्या होगा। यहां बनने वाले मेडिकल कॉलेज का नाम राजा दशरथ के नाम पर रखा जाएगा और अयोध्या में बनने वाले एयरपोर्ट का नाम मर्यदा पुरुषोत्तम भगवान राम के नाम पर होगा। अयोध्या में भगवान श्रीराम की 151 फीट ऊंची प्रतिमा लगाई जाएगी।
इस दौरान मुख्यमंत्री छात्रों से उनकी पढ़ाई के लिए पूछते रहे। उन्हें मन लगा कर पढ़ाई करने का संदेश दिया। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने रामगणेश, राजू, राजेश, बलिकरण, रातरतन, वीरेंद्र, महार, हरिलाल और वंशु को मिठाई के डिब्बे के साथ मुख्यमंत्री आवास योजना का प्रमाण पत्र भी प्रदान किया। पेंशन योजना के अंतर्गत पतिराजी, सुमित्रा देवी, गुलइची और सुंदर को वृद्धावस्था पेंशन का प्रमाण पत्र प्रदान किया। निराश्रित व विधवा पेंशन योजना के लाभार्थी मोनी, चंद्रा और वृंदावति को भी प्रमाण पत्र मिला और मिठाई का डिब्बा मिला। दिव्यांग पेंशन योजना की लाभार्थी सरस्वती, हरिचंद्र और मुन्नी को भी मिठाई के डिब्बे के साथ पेंशन का प्रमाण पत्र मिला। सीएम के हाथों प्रमाण पत्र लेती कई महिलाएं भावुक हो गई। सीएम ने मंच पर ही उन्हें ढांढस बधाया।
इन योजनाओं को किया शिलान्यास
मुख्यमंत्री ने ग्रामीण अभियंत्रण विभाग द्वारा बुढ़िया माई स्थान के सुंदरीकरण के कार्य का शिलान्यास किया। इस योजना पर 43.30 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। कार्यदायी संस्थान जंगल तिनकोनिया नम्बर 2 द्वारा राजस्व ग्राम जंगल तिनकोनिया नम्बर 3 में मनरेगा, पंचायती राज एवं आईसीडीएस विभाग के सहयोग से 8.06 लाख रुपये से बनने वाले आगनवाणी केंद्र शिलान्यास किया। कार्यदायी संस्था वन विभाग द्वारा वनों की प्रभावी सुरक्षा के लिए जंगल तिंकोनिया 3 में मनरेगा योजना के अंतर्गत गोरखपुर-पिपराइच मार्ग से पिपराइच रेलवे लाइन राजही तक 82.77 लाख रुपये से वन मार्ग पर खडंजा निर्माण कार्य का शिलान्यास किया। वन टांगिया राजस्व ग्राम आमबाग में मनरेगा योजना अंतर्गत ग्राम पंचायत रामगढ़ उर्फ रजही द्वारा 17.70 लाख रुपये से किए गए निर्माण कार्य का लोकार्पण किया।
इन योजनाओं का किया लोकार्पण:-
राजस्व ग्राम जंगल तिनकोनिया में-3 में राज्य वित्त, चौदहवां वित्त के अंतर्गत मिट्टी/ खडंजा/ सोलर लाइट आदि के निर्माण कार्य का लोकार्पण किया। कार्यदायी संस्था ग्राम पंचायत जंगल तिनकोनिया ने इन पर 6.65 लाख रुपये खर्च किए।
इसके अलावा सभी पांच वनग्रामों में स्वच्छ पेयजल के लिए सीएम ने 17 टीटीएसपी के निर्माण कार्य का लोकार्पण किया। उत्तर प्रदेश जल निगम ने इन कार्यो पर 56.70 लाख रुपये की धनराशि खर्च की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!