पति की गैर मौजूदगी में पति के दोस्त ने अपने साथी के साथ किया महिला से दुष्कर्म: बनाई अश्लील वीडियो

मुज़फ्फरनगर /खतौली- पति की गैर मौजूदगी में पति के दोस्त ने अपने एक साथी के साथ मिलकर महिला के साथ गलत काम तो किया ही साथ ही अश्लील विडियों भी बनाई और अब किसी को बताने पर वीडियो वायरल करने की धमकी दे रहा है ।पति के विश्वास पात्र दोस्त के व्यभिचार का शिकार हुई महिला ने थाने में तहरीर देकर आरोपी के विरुद्ध कार्यवाही किये जाने की मांग कोतवाली खतौली पुलिस से की है।

जानकारी के अनुसार खतौली नगर निवासी महिला का आरोप है कि घर आने जाने वाले पति के दोस्त ने एक माह पूर्व पति की गैरमौजूदगी में साथ लाये मीठे हलवे में नशीला पदार्थ मिलाकर खिला दिया ।नींद की बेहोशी की हालत में पति के धोखेबाज़ फरेबी दोस्त ने बलात्कार करके अश्लील वीडियो बना ली ।होश आने पर अपने आपको महिला ने निवस्त्र पाने पर विरोध किया।आरोपी ने अश्लील वीडियो दिखाकर महिला को चुप रहने की धमकी दी।लोकलाज के मारे महिला के चुप रहने पर आरोपी और लोगों के साथ अवैध सम्बन्ध बनाने का दबाव बनाने लगा।आत्मग्लानि से क्षुब्ध महिला ने आत्महत्या करने जैसा आत्मघाती क़दम उठाने का विचार अपने मासूम बच्चों के भविष्य की ख़ातिर त्याग दिया।

पीड़ित महिला ने पानी सिर से ऊपर हो जाने पर अपनी आपबीती से पति को अवगत करा दिया। दोस्त की बेवफ़ाई से क्षुब्ध पति द्वारा विरोध करने पर आरोपी ने दो दिन पूर्व अपने एक साथी के साथ घर मे घुसकर पति पत्नि के साथ मारपीट करके अश्लील वीडियो सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी दी है।पीड़ित महिला के साथ थाने पहुँचे पति ने अपने धोखेबाज़ दोस्त के विरुद्ध तहरीर देकर सख्त कार्यवाही किये जाने की मांग कोतवाल हरशरण शर्मा से की है।

उधर आरोपी पीड़ित पक्ष पर पुलिस में शिकायत नही करने का बना रहे दबाव दे रहे हैं और लगातार पीड़ितों को धमकी दी जा रही है ।आरोपियों के विरुद्ध कार्यवाही होती न देख पीड़ित पक्ष जिला मुख्यालय पहुंचा जहां पहले पीड़ित पक्ष जिलाधिकारी से मिला व उसके बाद एसएसपी दफ्तर में भी गुहार लगाई।यहां जिलाधिकारी ने थाना खतौली पुलिस को कार्यवाही के दिशा निर्देश दिए । थाना प्रभारी खतौली का कहना है कि आरोपी दोनों युवकों को हिरासत में ले लिया गया है पीड़ित पक्ष अभी मेरे पास नही आया है पीड़ितों के साथ हर सम्भव इंसाफ किया जायेगा ।

– मुजफ्फरनगर से भगत सिंह

Leave a Reply

%d bloggers like this: