ग़ाज़ीपुर- आज सरस्वती विद्या मंदिर रायगंज के विद्यार्थियों ने भारत की सैन्य ताकत व भारती मां का अपने शहीद वीर जवानों के साथ जीवंत झांकी लालदरवाजा,मिश्रबाजार होते हुए महुआबाग तक निकाल कर आतंकवाद व आतंकियों को पनाह देने वाले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पुतला दहन किया तथा पाकिस्तान विरोधी नारे लगाते हुए विरोध प्रदर्शन कर पाकिस्तान को निस्तोनाबूत करने की मांग की। जुलूस का नेतृत्व विद्यार्थी परिषद की कालेज व नगर इकाई कर रही थी। अभाविप कालेज इकाई अध्यक्ष खुशबू मौर्या ने कहा कि पाकिस्तान बार बार एक ही गलती को दुहरा रहा है। भारत से चार बार युद्ध हारने के बाद भी अपने आप को पाक साबित करने में लगा है। ये जेहादी दो मुहे साप है। इनको कुचल देना ही एक मात्र आखिरी रास्ता है। इन पाकिस्तानियों आर्थिक, राजनीतिक,भौगोलिक,सामाजिक सभी प्रकार से कमर तोड़नी होगी। इकाई सहमंत्री प्रज्ञा राय व वर्षा ने कहा कि जिस प्रकार से कश्मीर में भारतीय सेना के सामने कुछ युवक पत्थरबाजी कर रहे हैं ये कभी भी भारतीय नही हो सकते। ये पाकिस्तान के इशारे पर आतंकीयों को बचाने का असफल प्रयास कर रहे हैं। जो लोग वीरों की सहादत पर काश्मीर और मीडिया हाउस में बैठकर राजनीति कर रहे हैं और इन पत्थरबाजों को भटके हुए मासूम बताकर आतंकवाद का पक्ष ले रहे हैं ऐसे लोगों को सबसे पहले देशद्रोह का मुकदमा लगाकर जेल भेजना चाहिए। वर्तमान घटना से पूरा देश आहत हैं। जब तक पाकिस्तान में आतंकवाद को पनाह मिलती रहेगी तब तक आतंक छाया रहेगा। इस दुःख की घड़ी में सभी बड़े देश भारत के साथ है और भारतीय सैन्य बलों का मनोबल बहुत ऊंचा है। विरोधियों को जल्द ही मुहतोड़ जवाब मिलना चाहिए। जब तक पाकिस्तान को करारा जवाब नही मिल जाता तब तक देश का प्रत्येक विद्यार्थी अपनी पढ़ाई की कक्षाएं छोड़ यू ही सडकों पर उतर विरोध करने को बाध्य रहेगा। इस दौरान विद्यालय के प्रधानाचार्य धीरेन्द्र श्रीवास्तव,अभाविप के संगठनमंत्री अमित देव,सारंग राय, शालीन राय, हर्षित,ह्रदय नारायण मिश्र,नन्दू दुबे,पंचानन सिंह,वीरेंद्र प्रताप सिंह,नागेंद्र पांडेय,नरेंद्र सिंह,अनिल प्रजापति,निरंजन सिंह,मनोज गांधी,विनोद श्रीवास्तव,घनशयाम दुबे,सत्यम वर्मा,दुर्गा जी,शिवांगी दुबे,ओमप्रकाश मिश्र,मधु श्रीवास्तव,मुन्ना,प्रेम सिंह सहित सैकड़ों विद्यार्थी उपस्थित रहे।

रिपोर्ट-:प्रदीप दुबे गाजीपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!