*नगर निगम के अधिकारी अपने कार्यालयों से निकल कर प्रत्येक दिन सुबह-शाम अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण करें-दीपक अग्रवाल

वाराणसी- मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने विशेष रूप से जोर देते हुए कहां की जनसामान्य की बुनियादी समस्याओं से संबंधित ऐसे तमाम कार्य जो वर्तमान में लागू आदर्श आचार संघिता से प्रभावित नहीं है, उसे भी विभागीय स्तर पर इग्नोर किया जा रहा है। यह स्थिति अत्यंत असंतोषजनक है। साफ सफाई, सीवर एवं पेयजल आदि के रूटीन के कार्य में भी लापरवाही बरती जा रही है। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को रूटीन के ऐसे कार्य जो आदर्श आचार संहिता से प्रभावित नहीं हैं को प्राथमिकता पर कराए जाने पर जोर दिया है। शहर के कुछ कालोनी एवं मोहल्लो में पेयजल की समस्या बनी हुई है, ऐसे मुहल्लों को चिन्हित कर तत्काल समस्याओं का निराकरण जलकल के अधिकारी सुनिश्चित करें।
मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल अपने कैंप कार्यालय सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। उन्होंने सारनाथ वाटर ट्रीटमेंट प्लांट को पूरी क्षमता के साथ संचालित किए जाने का निर्देश दिया। ओवरहेड टैंक में से डब्ल्यूटीपी का पानी अभी भी आपूर्ति न होने की जानकारी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्होंने जल निगम के अधिकारियों को फटकार लगाई तथा इसे गंभीर प्रकरण बताया। उन्होंने मई महीने से पूर्व सभी ओवरहेड टैंको में पानी भर कर उससे पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित कराए जाने का निर्देश दिया। डीआईजी कॉलोनी एवं पांडेयपुर स्थित हिमांशु हॉस्पिटल के पास जल निगम द्वारा तत्काल कार्य शुरू कराए जाने का निर्देश दिया। निगम के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जहां-जहां लीकेज की समस्या है वहां तत्काल लीकेज को दुरुस्त करा कर पेयजलापूर्ति सामान्य बनाई जाए। कुछ-कुछ जगहों पर सीवर ओवरफ्लो की शिकायतें आ रही हैं, ऐसे स्थानों को चिन्हित करा कर समस्याओं का निस्तारण सुनिश्चित कराया जाए। कमिश्नर ने सड़कों पर लगे स्ट्रीट लाइटों को दिन में भी जलते रहने की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए नगर निगम के अधिकारी को निर्देशित किया कि वाह यह सुनिश्चित करें कि दिन में स्ट्रीट लाइटें किसी भी दशा में न जले और शाम होते ही उसे ऑन कर दिया जाए। अर्दली बाजार से महावीर मंदिर तक सड़क की स्थिति काफी खराब होने पर उन्होंने नगर निगम के अधिकारी को तत्काल मरम्मत कराए जाने का निर्देश दिया। विशेष रूप से जोर देते हुए उन्होंने कहा कि जो भी सड़कें खोदी जाए, उसे कार्य पूर्ण होने पर इसका अच्छी तरह रिपेयर अवश्य कराया जाए। मानक के अनुरूप सड़कों का रिपेयर न करने वाले ठेकेदारों के विरुद्ध एफआईआर कराए जाने का भी निर्देश दिया। उन्होंने खराब सड़कों को चिन्हित कर उसका मरम्मत कराए जाने हेतु लोक निर्माण विभाग एवं नगर निगम के अधिकारी को निर्देशित किया। पेयजल एवं सीवरेज पाइप लाइन का लीकेज एक स्थान पर ठीक कराने के बावजूद उसी स्थान पर दोबारा होने पर संबंधित इंजीनियर को जिम्मेदार मानते हुए उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। नगर निगम के अधिकारी अपने कार्यालयों से निकल कर प्रत्येक दिन सुबह-शाम अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण करें। विगत दो-तीन दिनों से शहर में विद्युत के ट्रिप होने की शिकायत पर कमिश्नर ने कहा कि विद्युत कटौती की समस्याएं न आने पाए इसको हर हालत में सुनिश्चित कराया जाए।
बैठक में जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह, नगर आयुक्त, अपर जिलाधिकारी नगर, मुख्य अभियंता लोक निर्माण विभाग, प्रोजेक्ट मैनेजर गंगा प्रदूषण, महाप्रबंधक जलकल सहित अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

रिपोर्टर:-महेश पाण्डेय नेशनल हेड(AV News)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!